Library


पुस्तकालय वह स्थान है जहाँ विद्दार्थी ग्यान-पिपासा शान्त करते हैं। किसी संस्था का शैक्षिक स्तर कैसा है- इसका मोटा-मोटा अनुमान पुस्तकालय को देखकर सहज ही किया जा सकता है । महाविद्दालय का विशाल पुस्तकालय सभी विषयों की ढेरों संदर्भ और सहायक पुस्तकों का आगार है । पुस्तकालय में 4200 पुस्तकें हैं। तथा दैनिक, साप्ताहिक एवं मासिक पत्र- पत्रिकाए मंगवाई जाती हैं। विद्यार्थियों को सत्र के दौरान से समापन तक पाठ्य पुस्तकें बुक-बैंक योजना के अन्तर्गत निर्गमित की जाती हैं। पुस्तकालय भवन में ही वाचनालय स्थित है। खुले एवं हवादार हॉल में मूलभूत सुविधाओं के साथ पठन व अध्ययन की समुचित व्यवस्था है। स्नातक कक्षाओं के विद्यार्थियों को गहन अध्ययन एवं नोटस बनाने के लिए सहज एवं शांत वातावरण उपलब्ध करवाने के निमित पुस्तकालय मे ही अलग बैठक व्यवस्था है तथा प्राध्यापकों के अध्ययन हेतु अलग स्थान निर्धारित है।
Library Rules
  • पुस्तकालय से तीन कार्ड मिलेंगे | कार्ड प्राप्त करते समय अपना सत्यापित परिचय पत्र काउन्टर पर प्रस्तुत करें |
  • पुस्तकालय से प्राप्त पुस्तकें अधिकतम 15 दिन अपने उपयोग हेतु रख सकेंगे | यदि पुस्तक अंतिम तिथि पर नहीं लौटाई गई तो 1 रुपये प्रति दिन विलम्ब दण्ड के हिसाब से भुगतान करना होगा | पुस्तक एक बार देने के पश्चात् पुनः नहीं दी जायेगी, परन्तु विशेष परिस्थितियों में पुस्तकालय अध्यक्ष (यदि पुस्तक की मांग अन्य किसी प्रशिक्षणार्थी द्वारा नहीं की गई हो तो) अधिक से अधिक 7दिन के लिए पुनः दे सकता है |
  • पुस्तकालय कार्ड अहस्तांतरणीय है | कार्ड खो जाने कि स्थिति में 10 रुपये प्रति कार्ड के हिसाब से जमा कराने पर पुनः कार्ड दिया जायेगा |
  • पुस्तकालय से पुस्तक लेते समय देख लें कि पृष्ठ पुरे हैं यदि पुस्तक वापसी पर पृष्ठ कम या फटे पाये गये तो दण्ड स्वरूप पुस्तक का पूरा मूल्य देना होगा |
  • सन्दर्भ पुस्तकें पुस्तकालय भवन से बाहर ले जाना दण्डनीय है |
  • सत्र समाप्ति से पूर्व सभी पुस्तकें एवं पुस्तकालय कार्ड्स लौटा कर अदेयता (No dues) प्रमाण पत्र प्राप्त करना होगा जिसके बिना परीक्षा प्रवेश पत्र नहीं दिया जायेगा |

Books details in Library :-

Sr.no.   Name of books Quantities
1. Total no. of Text books 2000
2. Total no. of Reference books 2200
3. Referred journals  7
4. Enpsychlopedia 7
5 Megzine 50
6. News papers 5